स्टैमिना बढ़ाने के घरेलू उपाय-Staimina Badhaane ke Ghareloo Upaay

स्टैमिना बढ़ाने के लिए  हर व्यक्ति के लिए काफी लाभदायक होता है चाहे फिर खिलाडी हो मजदूर हो अन्य भारी काम करने वाला हो स्टैमिना का मतलब होता है कोई भी व्यक्ति बिना रुके या थके कार्य कितना पूरा कर सकता है किसी किसी व्यक्ति का स्टैमिना ज्यादा होता है वो किसी भी कार्य को बिना थके ज्यादा का पाते है इसका एक और मतलब होता है किसी भी व्यक्ति के लिए टेंशन फ्री लाइफ जीने के लिए जरुरी लम्बा मानसिक प्रयास

स्टैमिना बढ़ाने के

इस लेख में स्टैमिना बढ़ाने के घरेलू उपाय के बारे में बातया गया है

स्टैमिना कम होने के कारण

अनियमित लाइफ स्टाइल जैसे अनियमित खान पान कैफीन और शराब का अत्यधिक सेवन करना नशीले पदार्थो का सेवन अत्यधिक शारीरिक गतिविधि नींद ना पूरा होना अत्यधिक तनाव और डिप्रेशन और डिहाइड्रेशन

कुछ शारीरिक दिक्क्तों से भी जैसे सर्दी जुखाम बुखार एलर्जी थाइरोइड ज्यादा मोटापा शुगर डायबिटीज और कैंसर के कारण भी स्टैमिना और एनेर्जी में भी कमी आ सकती है

स्टैमिना बढ़ाने के

कोई भी शारीरिक गतिविधि के बाद थकावट होना और स्टैमिना और एनेर्जी में कमी आना हेल्थी प्रक्रिया होती है लेकिन यदि आप नार्मल लोगो के मुकाबले काफी जल्दी थक जाते है तो आप में स्टैमिना और एनेर्जी की कमी है यदि आप को लगता है की हमें स्टैमिना की कमी हो रही है तो अपने लाइफ स्टाइल में बदलाव करके और कुछ आसान घरेलू नुख्से को अपनाकर आप अपना स्टैमिना बढ़ा सकते है

स्टैमिना बढ़ाने के लिए एक्सरसाइज करे

डायाफ्रामिक ब्रीथिंग का अभ्यास करने से स्टैमिना और एनर्जी को रिस्टोर करने में काफी मदद मिलती है जब हमारे शरीर और दिमाग को ज्यादा आक्सीजन मिलती है तो स्टैमिना पर प्रभाव होता है साथ ही डिप्रेशन और तनाव से लड़ने में भी काफी मदद मिलती है

स्टैमिना बढ़ाने के

  • किसी आराम दायक स्थान पे सीधे लेट जाये
  • अपने हाथो को अपने पेट पर रखे
  • अब दो सेकंड के लिए अपनी नाक से अंदर की तरफ एक लम्बी गहरी साँस ले
  • साँस धीरे धीरे अपने मुँह से चार सेकेंड में बहार निकाले
  • इस अभ्यास को 10 से 15 मिनट तक करते रहे
  • रोज इस अभ्यास को दो तीन बार करने से आप के स्टैमिना और एनेर्जी काफी बढ़ोतरी होगी
  • साथ साथ आप का तनाव और टेंसन भी कम होगा जिससे आप की काम करने की छमता बढ़ेगी

स्टैमिना और एनर्जी बढ़ाने के लिए योगा करे

योगा अभ्यास की आदत आप को दिन भर ऊर्जावान बनाए रखने और बेहतर तरीके से कार्य कर पाने में सहायक मानी जाती है यही कारण है स्वास्थ विशेषज्ञ सभी उम्र वाले लोगो को दिनचर्या में योगा शामिल करने की सलाह देते है

वीरभद्रासन

  • सब से पहले आप पैरो को चार से पांच फिट खोलकर खड़े हो जाये
  • बाए पैर को जमीन से 90 डिग्री कोण पर रखे
  • इसके बाद बाए पैर के पंजे को बाहर की तरफ कर ले
  • अब दाए पैर को जमीन से 45 डिग्री कोण पर रखे
  • दोनों हाथो को कंधो के बराबर जमीन के सामान्तर ले आए
  • बाए घुटनो को मोड़े की बायीं जांघ जमीन के समान्तर आ जाए

वीरभद्रासन के फायदे स्टैमिना और एनेर्जी बढ़ाने के साथ पैरो और टखनों को मजबूत व फ्लेक्सिबल बनता है कूल्हे छाती कंधे और ग्रोइन एरिया को की मजबूत बनाकर ब्लड फ्लो बढ़ता है साटिका बांझपन आदि राहत मिलता है

पद्मासन

पद्मासन आप के स्टैमिना और एनेर्जी अस्त्रों को पुनस्थार्पित करता और यह आसान करने से आप के मस्तिष्क को भी शांत करता है

  • पद्मासन करने के लिए किसी आराम एवं खुली स्थान चुन ले
  • उसके बाद योगा मैट को बिछा ले और फिर दण्डासन की मुद्रा में बैठ जाए
  • रीढ़ की हड्डी को सीधा रखे
  • अब अपने दाए पैर को मोड़े और उसे बाए पैर की जांघ पर रखे
  • अब बाए पैर की मोड़े और उसे दाए पैर की जांघ पर रखे ले
  • अपने दोनों हाथो को सीधा कर के दोनों घुटनो पर रख ले
  • आँख को बंद कर के ध्यान लागये
  • इस आसन को पांच मिनट तक करे

स्टैमिना बढ़ाने के लिए क्या खाये

स्टैमिना बढ़ाने के लिए खाए ये 6 फूड्स

नट्स

नट्स में फाइबर हेल्दी फेट्स प्रोटीन और विटामिन्स होते है

नट्स ओमेगा 3 फैटी एसिड से भरपूर होते है

नट्स का सेवन स्टैमिना बढ़ाने के के लिए  के हेल्दी  माना  गया है

नट्स  स्टैमिना बढ़ाने के साथ साथ ब्लड सर्कुलेशन को भी बढ़ा सकता है

स्टैमिना बढ़ाने के

ब्राउन चावल

ब्राउन चावल यह आप की भूख को लम्बे समय तक मिटाता है चावल जैसे उच्च कार्बोहाइड्रेट वाले खाद्य पदार्थ आप की मासपेशियो और टिशूज को आरम देने में मदद करते है ब्राउन चावल में सफ़ेद चावल की तुलना में स्टार्च्र कम और फाइबर अधिक होता है

केला

केला के अंदर मेगिनिस्याम मैगिनशियम होता जो आप के स्टैमिना और एनर्जी को बढ़ाता है इसमें मौजूद फाइबर वजन घटाने और पाचन तंत्र को सुचारु रूप से चलाने में मदद करता है

फैटी मछली

मिनरल्स प्रोटीन विटामिन्स और ओमेगा-3 फैटी एसिड का अच्छा स्रोत होती है फैटी मछली कई मछलियों में विटामिन B12 होता है जो स्टैमिना और एनर्जी को बढ़ाता है

हरी पत्ती दार सब्जियों

स्टैमिना बढ़ाने के लिए हरी पत्ती दार सब्जियों का सेवन करे हरी पत्तीदार सब्जियों में फाइवर विटामिन और आवश्यक पोषक तत्व होते है जिनमे आयरन की मात्रा अधिक होती जब शरीर में आयरन की कमी कारण कमजोरी थकान महसूस होती है हरी पत्तेदार सब्जियों खाने से आप की स्टैमिना और एनर्जी दोनों बढ़ सकती है साथ ही साथ थकान और कमजोरी भी दूर हो जाएगी हरी सब्जियों में विटामिन C की मात्रा अधिक होती है जो कमजोरी और थकान से लड़ने में मदद करती है

सेब

सेब में फाइबर आयरन विटामिन कार्बोहइड्रेट और  खनिजों से भरपूर होती हैसेब खाने से आप की इम्यूनिटी को बढ़ाता है और एनर्जी स्टैमिना बने रहते है

स्टैमिना बढ़ाने के घरेलू उपाय

स्टैमिना बढ़ाने के लिए शीरा

शीरा को स्टैमिना बढ़ाने में काफी लाभकारी मन जाता है इसमें अत्यधिक मात्रा में आयरन मैगजीन पोटेशियम और कॉपर पाया जाता है हाई एनर्जी लेवल को बनाये रखने में मदद करता है एक गिलास गर्म दूध या पानी में एक दो चम्मच शीरा मिलाए रोज इसका सेवन दो बार करे

स्टैमिना बढ़ाने के लिए सेब के सिरका

सेब के सिरका को भी थकावट दूर करने में फायदेमंद मन जाता है यह शरीर को एल्कलाइन कर के एनर्जी युक्त रखने में मदद करता है साथ ही इस हेल्थ टॉनिक में इलेक्ट्रोलाइट्स भी भरपूर मात्रा में होते है जो स्टैमिना को बढ़ाते है दो चम्मच कच्चे बिना छने हुए सेब के सिरका को एक गिलास पानी में मिलाए अब इसे स्वाद अनुसार शहद में मिलाकर सेवन करे

स्टैमिना बढ़ाने के लिए हल्दी काफी लाभ दायक है 

हल्दी में करक्यूमिन नामक कपांउड पाया जाता है जिसके कई हेल्थी फायदे होते है इसमें मौजूद शक्तिशाली एंटी- इन्फ्लामेट्री प्रॉपर्टीज थकावट को दूर करने में मदद करती है स्टैमिना और एनर्जी का लेवल बढ़ाती है साथ ही परफॉर्मेंस को बढ़ाने में मदद करती है हल्दी रिकवरी टाइम को कम करती है यहां तक की यह थकावट के बाद माशपेशियों को रिपेर करने में भी मदद करती है एक गिलास गर्म दूध में एक चम्मच हल्दी मिलाकर सेवन करे साथ ही भोजन में भी हल्दी का प्रयोग करे

स्टैमिना बढ़ाने के मैग्नीशियम युक्त पदार्थ का सेवन

शरीर में थोड़ी सी भी मैग्नीशियम की कमी होने पर हमारे स्टैमिना और एनर्जी लेवल पर बुरा असर पड़ता है शरीर के ग्लूकोज को एनर्जी में बदलने में मैग्नीशियम काफी अहम् भूमिका निभाता है इस लिए जब भी आप का स्टैमिना और एनर्जी लेवल कम हो तो अपने भोजन में मैग्नीशियम युक्त पदार्थो को शामिल करे पुरुषो के शरीर को डेली कम से कम 350 ग्राम और महिला के शरीर को 300 मैग्नीशियम की जरुरत होती है हरे पत्ते दार सब्जिया बादाम नट्स बीज सोयाबीन केला फ़ीस एवोकाडो और डार्क चॉकलेट आदि में मैग्नीशियम की भरपूर मात्रा में होता है

स्टैमिना बढ़ाने के

स्टैमिना बढ़ाने के अतिरिक्त उपाए

शारीरिक श्रम करते समय बीच बीच में रेस्ट लेते रहे इससे आप का स्टैमिना और एनर्जी रिस्टोर होने में काफी मदद मिलेगी अत्यधिक तले भुने वाले पदार्थ जैसे समोसा चिप्स रिफाइंड फ़ूड प्रोडक्ट्स शुगर आदि खाने से स्टैमिना और एनर्जी पर काफी बुरा असर पड़ता है प्रोटीन आयरन और काम्प्लेक्स कार्बोहाइड्रेट्स से युक्त पदार्थ का सेवन ज्यादा करे अपनी दिनचर्या जीवन शैली को नियमित बनाये तनाव मुक्त रहे और पॉजिटिव रहे मानसिक सतर्कता शारीरिक शक्ति बढ़ाने के लिए नियमित योग करे डेली कम से कम 15 मिनट मैडिटेशन करे शराब ड्रग और धूम्रपान से दूर रहे  रोज भरपूर नींद ले इससे आप के शरीर की हीलिंग प्रोसेस ठीक रहेगी

जाने 10 दिन में मोटापा कैसे कम करें 

1 thought on “स्टैमिना बढ़ाने के घरेलू उपाय-Staimina Badhaane ke Ghareloo Upaay”

Leave a Comment

हल्दी के पानी में छिपा है ये राज सर्वाइकल स्पॉन्डिलाइटिस दर्द से कैसे करे बचाव बेसन में छिपा है ब्यूटी का राज बहरापन होने के कारण फूल गोभी के डंठल में छिपा है ये राज प्याज के रस से बाल उगाने का तरीका पेट में कीड़े होने के लक्षण पपीता खाने खाने के फायदे आप को हैरत में डाल देंगे नाक से पानी आना कौन सी बीमारी है थायराइड की रोकथाम और घरेलू उपचार गेंदा फूल के फायदे कपालभाति के लाभ (Benefit) आप भी कब्ज से है परेशान तो करे ये उपाय The vaccine war विवेक अग्निहोत्री Iqoo 11 launch in india 10 दिन में मोटापा कैसे कम करें